Search Bar



आज की इस भागते- दौड़ते हुए जीवन में लोगो के सामने एक बहुत बडी समस्या नींद की भी है। हम यहाँ पर सही तरह से नींद लेने या ठीक ढंग से सोने के तरीकों को लेकर चर्चा करेंगे। क्योंकि सोने की तैयारी करने से पहले हमें जानना आवश्यक है कि हमें लेटना किस तरह से चाहिये। क्योंकि गलत ढंग से सोने के कारण भी अनेक व्यक्तियों को न ही ठीक प्रकार से नींद आती है, फिर वे पूरी रात ईधर से उधर करवट बदलते रहते है और यही कारण है कि ठीक से नींद पूरी न होने कारण वे तनाव आदि से ग्रसित भी देखे गये है बात यहीं समाप्त नही होती  लोगो को सुबह उठते ही कमर ,गर्दन आदि में दर्द भी देखे गये है। इनकी वजह कुछ और नही बल्कि गलत ढंग से सोना ही है,  ठीक ढंग से सोना भी उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि ठीक प्रकार से भोजन करना।
















क्या है सोने का सही तरीका? :-
  • सबसे पहले सोने का आसन जहाँ आप सोते है वह स्थान समतल बिल्कुल सीधा होना चाहिये न ही ज्यादा गद्देदार और न ही अधिक  ठोस होना चाहिये। इसके साथ- साथ ही वह स्थान साफ- सुथरा व शांतिपूर्ण भी होना आवश्यक है।
  • हमें बिल्कुल सीधा पैरो में एक या डेढ़ फीट की दूरी बनाकर और अपने हाथों की हथेलियाँ आसमान की ओर फैलाकर सोने से बहुत अच्छी नींद आयेगी। इस तरह से सोना आपको कमर , गर्दन आदि के दर्द से भी बचाएगा।
  • दूसरा यदि बायीं तरफ करवट लेकर सोना होतो आपका बायें पैर के ऊपर दायाँ पैर उसी तरह से  रखना चाहिए जिससे हमारी कमर व गर्दन भी सीधी हो, और आपका बायां हाथ मोड़कर आपके सिर के नीचे आये जिससे आपकी गर्दन में दर्द न हो और आपको नींद भी अच्छी आये। उसी तरह दायीं तरफ से अगर लेटना चाहें तो बायां पैर दाएँ पैर के ऊपर व दायाँ हाथ सिर के नीचे होना चाहिये। इस प्रकार से सोने पर आप उचित नींद भी ले पायेंगे और आपको स्वास्थ्य लाभ भी होगा ।

जाने क्या है सोने का सही तरीका.. | MyYogaSutra.in



आज की इस भागते- दौड़ते हुए जीवन में लोगो के सामने एक बहुत बडी समस्या नींद की भी है। हम यहाँ पर सही तरह से नींद लेने या ठीक ढंग से सोने के तरीकों को लेकर चर्चा करेंगे। क्योंकि सोने की तैयारी करने से पहले हमें जानना आवश्यक है कि हमें लेटना किस तरह से चाहिये। क्योंकि गलत ढंग से सोने के कारण भी अनेक व्यक्तियों को न ही ठीक प्रकार से नींद आती है, फिर वे पूरी रात ईधर से उधर करवट बदलते रहते है और यही कारण है कि ठीक से नींद पूरी न होने कारण वे तनाव आदि से ग्रसित भी देखे गये है बात यहीं समाप्त नही होती  लोगो को सुबह उठते ही कमर ,गर्दन आदि में दर्द भी देखे गये है। इनकी वजह कुछ और नही बल्कि गलत ढंग से सोना ही है,  ठीक ढंग से सोना भी उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि ठीक प्रकार से भोजन करना।
















क्या है सोने का सही तरीका? :-
  • सबसे पहले सोने का आसन जहाँ आप सोते है वह स्थान समतल बिल्कुल सीधा होना चाहिये न ही ज्यादा गद्देदार और न ही अधिक  ठोस होना चाहिये। इसके साथ- साथ ही वह स्थान साफ- सुथरा व शांतिपूर्ण भी होना आवश्यक है।
  • हमें बिल्कुल सीधा पैरो में एक या डेढ़ फीट की दूरी बनाकर और अपने हाथों की हथेलियाँ आसमान की ओर फैलाकर सोने से बहुत अच्छी नींद आयेगी। इस तरह से सोना आपको कमर , गर्दन आदि के दर्द से भी बचाएगा।
  • दूसरा यदि बायीं तरफ करवट लेकर सोना होतो आपका बायें पैर के ऊपर दायाँ पैर उसी तरह से  रखना चाहिए जिससे हमारी कमर व गर्दन भी सीधी हो, और आपका बायां हाथ मोड़कर आपके सिर के नीचे आये जिससे आपकी गर्दन में दर्द न हो और आपको नींद भी अच्छी आये। उसी तरह दायीं तरफ से अगर लेटना चाहें तो बायां पैर दाएँ पैर के ऊपर व दायाँ हाथ सिर के नीचे होना चाहिये। इस प्रकार से सोने पर आप उचित नींद भी ले पायेंगे और आपको स्वास्थ्य लाभ भी होगा ।

1 comment: